पति ने बीवी को पकड़ के रखा ताकि दोस्त उसकी बीवी के गांड अच्छे से ठोक सकें

182

इस आदमी पर अपने दोस्त का भारी कर्जा हुआ था. दोस्त उसे बार-बार अपना पैसा वापस करने की मांग करते रहता था. पति को पता चल गया था कि उसका कर्जा उतारना उसके बस की बात नहीं है. तो बदले में उसने अपनी बीवी की चुदाई करने का प्रस्ताव दिया. दोस्त ने उसे तुरंत मान लिया.

फिर दोस्त आदमी के घर आया. पति ने बीवी को इस सौदे के बारे में बताया ही नहीं था. वह गैरमर्द से चुदने के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थी. पर जब पति ने उसकी हिम्मत बांधी तो वो तैयार हो गई.

पति ने उसे नंगी कर दिया. साथ में वो भी नंगा हो गया. बीवी आगे झुकी और पति ने सामने से उसे अच्छे से पकड़ रखा. फिर दोस्त पीछे आया और अपनी भाभी की कमर पकड़ कर उसे चोदने लगा. चुत चोद चोदकर उसने मुद्दल तो निकाली पर ब्याज उतारने के लिए उसने उसकी गांड भी ठोकी और वो भी अपने दोस्त के सामने.