स्वेटर उठाकर आंटी ने की ठंडी चूत को गर्म

126

जाड़े के दिनों में यह आंटी स्वेटर पहनकर लेटी हुई थी. पर चुदासी की गर्मी रजाई और स्वेटर की गर्मी से कहीं ज्यादा होती है. इसीलिए वह अपने ठंडी पड़ी चूत को सहलाकर अपनी चुदासी बढ़ा रही है.

आंटी घर में अकेली है तो बत्ती जलाकर वह स्वेटर ऊपर उठाकर बिस्तर पर बैठी हुई है. उसने निचले कपड़े भी हटा दिए हैं. अब वह अपनी चूड़ियां पहनी हाथों से काली चूत चोदने लगती है. इससे धीरे-धीरे उसकी चूत गर्म होती चली जाती है. यकीन मानिए जब बदन में चुदास की गर्मी चढ़ती है ना तब स्वेटर और रजाई की भी जरूरत नहीं पड़ती. आप भी देखें इस आंटी को अपनी ठंडी चूत को गर्म करते हुए.