खाना पका रही भाभी की कमीज उठाकर मैंने पीछे से कि उसकी चुदाई

102

मेरी भाभी किचन में खाना बना रही थी. 2 दिनों से भैया भी घर नहीं थे. मैं भाभी के पास गया और खाना बनाने में उसकी मदद करने लगा. फिर बातों ही बातों में कुछ ऐसा हो गया की मैंने भाभी की कमीज ऊपर उठाकर सलवार नीचे खिसका दिया. भाभी ने अंदर चड्डी पहनी हुई नहीं थी. उसके गोलाकार चूतड़ों को नंगे देखने के लिए मैं कब से बेकरार था.

मैंने अपना पायजामा अंडरवियर के साथ नीचे खिसकाया और मेरी भाभी की चूत पीछे से चोदने लगा. उसके चूतड़ों पर मेरी जाँघे टकरा रही थी. वह सुखद अहसास मैं कभी नहीं भूल पाऊंगा. आखिर में मेरा माल छूट गया और उसके चूतड़ पर चांटा मारकर मैंने उसको इशारा कर दिया.