देहाती औरत ने कार में चूसा शहरी बाबू का लंड

312

यह शहर में रहने वाला सरकारी बाबू किसी लोकमंगल योजना को लेकर गांव में आया था. जो लोग इस योजना के लिए पात्र थे उन्हें तो इनका लाभ मिल गया लेकिन एक देहाती औरत के पास जरूरी कागजात ना होने के कारण वह योजना के लिए अपात्र रही.

इस बात को लेकर उसने गांव आए सरकारी बाबू से विनंती भी की लेकिन बाबू ने उसे अपनी असमर्थता जताई. जब वह अपना काम खत्म कर शहर लौट रहा था तब इस देहाती औरत ने उसे रास्ते में फिर से रोक लिया. उसने फिर से बाबू को विनंती की.

इस पर बाबू ने उसे अपनी कार में बिठाया और उसका काम करके देने के बदले अपना लंड चूसने लगाया. देहाती औरत ने भी ज्यादा कुछ सोचा नहीं और तुरंत उसका लंड मुंह में लेकर चूसकर दिया.